प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

जिन्नाः मैं दिल्ली को आखिरी बार देख रहा हूं

15 अगस्त 1947 को भारत की आज़ादी से पहले क्या हो रहा था? बीबीसी हिंदी के लिए 1997 में मधुकर उपाध्याय ने 'पचास दिन पहले, पचास साल बाद' नाम से रिपोर्टें बनाई थीं जिसमें सिलसिलेवार ढंग से आज़ादी के पहले की घटनाओं का ज़िक्र था.

इस सीरीज में जानिए सात अगस्त 1947 की घटनाओं के बारे मे.

ऑल इंडिया रेडियों से प्रसारित हो रहे हीराबाई बारोडकर से शास्त्रीय गायन की तरफ ध्यान दिए बिना जिन्ना आलमारियों से कागज़ निकालते और छांटकर अलग करते रहे.