क्या आप फ़ेसबुक पर ऑनलाइन पेमेंट करना पसंद करेंगे?

  • 17 अगस्त 2013
फ़ेसबुक

दुनिया की सबसे बड़ी सोशल नेटवर्किंग कंपनी फ़ेसबुक मोबाइल भुगतान के फ़ीचर के परीक्षण की योजना बना रहा है.

इस फ़ीचर से मोबाइल एप्लीकेशंस खरीदते समय उपभोक्ता के फ़ेसबुक एकाउंट में दी गई जानकारी अपने आप मोबाइल भुगतान फार्म में चली जाएगी.

फ़ेसबुक ने कहा है कि इस फ़ीचर से भुगतान के लिए उपभोक्ताओं द्वारा पहले से प्रयोग किए जा रहे ऐप्लीकेशंस बंद नहीं होंगे.

फ़ेसबुक की प्रवक्ता टेरा रैंडल ने एक बयान में कहा, "इस फ़ीचर का परीक्षण केवल यह जानने के लिए किया जा रहा है कि क्या हम अपने ऐप पार्टनर्स को बिज़नेस का बेहतर अनुभव उपलब्ध करा सकते हैं."

टेरा ने ज़ोर देते हुए कहा कि ऑनलाइन पेमेंट की सुविधा देने वाली बड़ी कंपनी पेपॉल के साथ हमारा संबंध "बहुत अच्छा" रहा है.

फ़ेसबुक के एक अरब से ज़्यादा इस्तेमाल करने वाले हैं और इनमें से आधे फॉलोअर रोज़ाना लॉग-इन करते हैं. फ़ेसबुक की लोकप्रियता के कारण विज्ञापनदाता इसके माध्यम से बिज़नेस करने की संभावनाओं को लेकर उत्साहित हैं.

मोबाइल भुगतान क्षेत्र में बढ़ते कारोबारी अवसरों को भुनाने के लिए विभिन्न कंपनियों के बीच होड़ बढ़ती जा रही है.

अरबों का मुनाफा

फ़ेसबुक के यूज़रों की संख्या एक अरब से ज़्यादा हो चुकी है.

फ़ेसबुक द्वारा जारी की गई ताजा रिपोर्ट के अनुसार इस साल अप्रैल से जून की तिमाही में विज्ञापन से इसे कुल 1.6 अरब डॉलर (करीब 99 अरब रुपए) की आय हुई थी.

विशेषज्ञों का मानना है कि यदि फ़ेसबुक इस पेमेंट फ़ीचर को ले आता है तो इसके पार्टनर एप्लीकेशंस के माध्यम से की गई खरीददारी की जानकारी रखना आसान हो जाएगा.

कंसल्टिंग फर्म फ्रॉस्ट एंड सुलिवन ने बीबीसी से कहा, "फ़ेसबुक केवल ब्रांड प्रमोशन का प्लेटफॉर्म बनकर ही नहीं रहना चाहता बल्कि चाहता है कि इस पर वास्तविक कारोबार भी हो. यह फ़ीचर विज्ञापनदाताओं को संदेश देगा कि पैसे कमाने के लिए फ़ेसबुक एक सही प्लेटफॉर्म है. फ़ेसबुक का यह कदम काबिलेतारीफ है."

कुछ दूसरे विशषज्ञों ने फ़ेसबुक के इस फ़ीचर की सफलता को लेकर संदेह जताया है.

फॉरेस्टर रिसर्च की विश्लेषक डेनी कारिंगटन ने कहा, "उपभोक्ता आरामदायक और सुरक्षित मोबाइल पेमेंट करना चाहते हैं. उपभोक्ताओं को ज़्यादा सुरक्षा देने वाले पेपॉल, वीज़ा (वीडॉटएमई) जैसे कई अन्य प्रतिद्वंद्वी हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार