पिस्टोरियस या भगवान ही जानते हैं सच्चाई:रीवा के पिता

  • 23 फरवरी 2013
प्रेमिका की हत्या के मामले में अदालत ने कड़ी शर्तों पर पिस्टोरियस को जमानत दी है.

दक्षिण अफ्रीकी एथलीट के हाथों मारी गई रीवा के पिता का कहना है कि पिस्टोरियस को अपनी प्रेमिका की हत्या पर अपनी अंतरात्मा की आवाज़ के साथ जीना होगा.

पिस्टोरियस की जमानत पर रिहाई के एक दिन बाद रीवा के पिता बैरी स्टीनकांप ने समाचार पत्र ब्लीड से कहा,"पिस्टोरियस ने जिस तरह से घटना के बारे में बताया है अगर वो सच नही है तो उन्हें इसके परिणाम भुगतने होंगे. भगवान या फिर खुद वो ही जानते हैं कि उस दिन क्या हुआ था"

उन्होंने आगे कहा,"इस बात से कोई फर्क नही पड़ता कि उनके पास कितनी संपत्ति है और उनके कानूनी टीम कितनी अच्छी है. उन्हें नतीजे तो भुगतने ही होंगे.लेकिन अगर वो सच बोल रहे हैं तो शायद मैं उन्हें एक दिन माफ़ कर दूं."

आखिर क्या हुआ था उस रात को

शुक्रिया दोस्तों

इस बीच, जेल मे नौ दिन बिताने के बाद पिस्टोरियस ने अपने सभी मित्रों और शुभचिंतकों का शुक्रिया अदा किया. उनके भाई कार्ल ने ट्विटर पर उन सभी लोगों को धन्यवाद दिया जिन्होंने उनके परिवार के लिए कामनाएं की.

पिस्टोरियस इस समय प्रिटोरिया में अपने चाचा के यहाँ रह रहे है.

उनके चाचा ऑर्नाल्ड का कहना है कि इनका परिवार और दोस्तों को इस बात से काफी राहत मिली है कि पिस्टोरियस को जमानत मिल गई है.

ऑर्नाल्ड ने कहा कि जो कुछ भी हुआ उसने परिवार की ज़िदगी बदल दी है.

फूलों का गुलदस्ता

रीवा की माँ ने बताया कि उन्हें पिस्टोरियस के परिवार की ओर से फूलों का गुलदस्ता मिला है लेकिन इसका कोई मतलब नही है.

इससे पहले, शुक्रवार को ऑस्कर पिस्टोरियस को अदालत ने लंबी सुनवाई के बाद ज़मानत दे दी थी.

पिस्टोरियस पर अपनी गर्लफ्रेंड रीवा की हत्या का आरोप है. हालांकि वे हत्या के आरोप से इनकार करते हैं. पिस्टोरियस का कहना है कि उन्होंने ये समझ कर गोली चलाई थी कि शायद घर में कोई घुस गया है.

सुनवाई में मजिस्ट्रेट डेसमंड नायर ने कहा कि अभियोजन पक्ष ये बात ठीक से नहीं रख पाया कि अभियुक्त भाग सकता है या फिर वो हिंसक प्रवृत्ति का है.

मजिस्ट्रेट का ये भी कहना था कि पिस्टोरियस ने शुरुआती दौर से ही इस मामले में सहयोग किया. साथ ही मजिस्ट्रेट ने ये भी कहा कि वे समझ नहीं पा रहे हैं कि पिस्टोरियस ने इस तरह गोली क्यों चलाई.

संबंधित समाचार