स्पॉट फिक्सिंग: नए सुराग मिलने का दावा

  • 18 मई 2013
स्पॉट फिक्सिंग
Image caption सवाल उठ रहे हैं कि क्या फिक्सिंग के आरोप लोगों के दिलचस्पी आईपीएल में कम कर देंगे.

मुंबई के संयुक्त आयुक्त (अपराध) हिमांशु कुमार ने कहा है कि शहर के एक होटल से उन्हें श्रींसत का लैपटाप, आईपैड, मोबाइल, नक़द पैसे, डॉटा कार्ड और डॉयरी मिले हैं.

हिमांशु कुमार ने एक प्रेसवर्ता में कहा है कि वो इन सबकी जांच कर रहे हैं और उन्हें उम्मीद है कि इससे स्पॉट फिक्सिंग के मामले में मुल्क के अलग-अलग शहरों में जारी जांच को बहुत मदद मिलेगी.

पुलिस का दावा है कि स्पॉट फिक्सिंग के मामले में गिरफ्तार आईपीएल खिलाड़ी इसी होटल में ठहरे हुए थे, जिसकी बुकिंग किसी कंपनी ने करवाई थी.

'टीम से अलग'

पुलिस के मुताबिक़ राजस्थान रॉयल्स - जिसके श्रीसंत सदस्य थे, की टीम किसी दूसरे होटल में रूकी थी.

हिमांशु कुमार के मुताबिक़ श्रीसंत और जीजू जनार्दन इसी होटल में रूके थे.

दिल्ली पुलिस ने श्रींसत और दूसरे दो खिलाड़ियों को मुंबई से गिरफ्तार किया था जिसके बाद उन्हें राजधानी ले जाया गया.

पुलिस ने कहा है कि वो होटल के सीसीटीवी फुटेज भी हासिल करने की कोशिश कर रही है जिससे ये पता चल सकेगा कि कौन-कौन से लोग खिलाड़ी और उनके साथी से मिलने आए थे.

इस बीच खिलाड़ियों के वकीलों ने कहा है कि उनके मुवक्किल को फंसाया जा रहा है.

उन्होंने इस बात से भी इंकार किया है कि खिलाड़ी किसी तरह की फिक्सिंग में शामिल थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार