'कूल' दिखने के चक्कर में बेवक़ूफी कर बैठे संजय दत्त: अरशद वारसी

  • 18 मई 2013
संजय दत्त ने 16 मई को टाडा कोर्ट में समर्पण किया.

'सर्किट' को 'मुन्नाभाई' की चमचागिरी करते आपने ख़ूब देखा होगा. लेकिन पहली बार 'सर्किट' ने 'मुन्नाभाई' को पहले तो लताड़ लगाई फिर प्यार से पुचकारा भी.

'सर्किट' यानी अरशद वारसी और 'मुन्नाभाई' यानी संजय दत्त.

(पढ़िए संजय दत्त पर अमिताभ की राय)

अपनी फिल्म 'जॉली एलएलबी' के डीवीडी लॉन्च पर जब अरशद पहुंचे तो ऐसा कैसे हो सकता था कि उनसे संजय दत्त के जेल जाने पर प्रतिक्रिया ना मांगी जाती. प्रतिक्रिया मांगी गई और अरशद पहले तो बोले कि वो संजय दत्त पर कुछ नहीं बोलना चाहते.

(क्लिक करिए और पढ़िए संजय पर क्या बोले सनी देओल)

अरशद वारसी कहते हैं कि संजय दत्त अपराधी नहीं है बल्कि उन्होंने बेवक़ूफ़ी की थी.

लेकिन फिर बोल पड़े, "संजय दत्त अपराधी या आतंकवादी नहीं है. उससे जवानी के दिनों में बेवक़ूफ़ी हो गई. जैसे कोई नौजवान 'कूल' दिखने की कोशिश में कुछ मूर्खता कर बैठता है, वही संजय दत्त ने कर दी. जिसकी क़ीमत वो अब तक अदा कर रहा है."

अरशद ने आगे कहा, "संजू अपनी नादानी के लिए कुछ ज़्यादा ही क़ीमत अदा कर चुका है. मैं चाहूंगा कि क़ानून उनसे थोड़ी नरमी बरते. वो जल्दी जेल से बाहर आ जाएं ताकि हम मुन्नाभाई सीरीज़ की अगली फिल्म शुरू कर पाएं."

'नहीं की मुलाक़ात'

क्या जेल जाने से पहले उन्होंने संजय दत्त से मुलाक़ात की?

इस पर अरशद ने कहा, "नहीं. मुझे लगता है कि ये वक़्त संजू और उसके परिवार का था. उन्हें स्पेस देना चाहिए था. मैं उम्मीद करूंगा कि जेल की तक़लीफ़ें वो ठीक तरह से झेल पाएं.

संजय दत्त और अरशद वारसी ने 'मुन्नाभाई सीरीज़' की दो फिल्मों में काम किया.

"इस उम्र में संजू के लिए जेल जाना और परिवार से दूर रहना शारीरिक और मानसिक रूप से ज़्यादा मुश्किल होगा. शायद वो आज से 20 साल पहले बेहतर तरीक़े से इस समस्या से निपट पाते."

(देखिए कैसे रहे संजय के वो 20 साल)

रुक गई 'मुन्नाभाई' सीरीज़

संजय दत्त को 1993 मुंबई ब्लास्ट से जुड़े एक मामले में सज़ा सुनाई गई है और उन्होंने 16 मई को मुंबई स्थित टाडा कोर्ट में समर्पण कर दिया जिसके बाद वो जेल में हैं.

उन्हें 42 महीने जेल में बिताने होंगे. उनको सज़ा सुनाए जाने से थोड़े समय पहले ही निर्माता विधु विनोद चोपड़ा ने 'मुन्नाभाई' सीरीज़ की तीसरी फिल्म बनाने का ऐलान किया था. लेकिन संजय दत्त के जेल जाने के बाद फिलहाल इस फिल्म पर काम रुका हुआ है.

(संजय दत्त की फिल्म की तस्वीरें)

साल 2003 में इस सीरीज़ की राजकुमार हीरानी निर्देशित पहली फिल्म 'मुन्नाभाई एमबीबीएस' रिलीज़ हुई थी और साल 2006 में 'लगे रहो मुन्नाभाई'. दोनों ही फिल्में बॉक्स ऑफिस पर कामयाब रही थीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए क्लिक करें. आप हमारे फेसबुक पेज पर जाकर भी अपनी राय रख सकते हैं साथ ही आप हमें ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार