50 लाख घर और 30 लाख नौकरियां देंगे: मोदी

 सोमवार, 3 दिसंबर, 2012 को 17:08 IST तक के समाचार
नरेंद्र मोदी

गुजरात में मोदी अपना करिश्मा कायम रखना चाहते हैं

गुजरात में मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी के घोषणापत्र में चुनावी वादों की झड़ी लगाई है.

मोदी ने अगले पांच साल में 50 लाख घर और 30 लाख नौकरियों के अवसर मुहैया कराने का वादा किया है.

मोदी ने इस घोषणा के साथ कांग्रेस को जबाव दिया है जो शहरी गरीबों को 27 लाख घर मुहैया कराने का वादा कर रही है.

गुजरात में विधानसभा चुनाव के दो चरणों में 13 और 17 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे.

मोदी के वादे

भाजपा के घोषणापत्र में कहा गया है कि अगर मोदी की सरकार में वापसी हो जाती है तो वो शहरी और ग्रामीण गरीबों को 50 लाख घर मुहैया कराएंगे.

मोदी ने अहमदाबाद में कहा, “वादे करना आसान है और बहुत सी पार्टियां घर देने का वादा कर रही हैं, लेकिन हम वादों को पूरा करेंगे.”

दूसरी तरफ गुजरात प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष अर्जुन मोधवाड़िया ने भाजपा के घोषणा पत्र को जनता का मजाक करार दिया है.

"वादे करना आसान है और बहुत सी पार्टियां घर देने का वादा कर रही हैं, लेकिन हम वादों को पूरा करेंगे."

नरेंद्र मोदी, गुजरात के मुख्यमंत्री

उन्होंने कहा, “जितनी भी किफायती आवास योजनाएं थीं, वो 17 साल के अपने शासन में भारतीय जनता पार्टी ने बंद कर दीं. कांग्रेस के शासन में लाखों मकान बनाने वाले गुजरात हाउसिंग बोर्ड को ही बंद कर दिया गया.”

युवाओं को लुभाया

गुजराती लोगों के लिए स्वास्थ्य बीमा से जुड़े कांग्रेस के वादे के जवाब में नरेंद्र मोदी ने कहा कि गुजरात के सभी छह करोड़ लोगों को बीमा की सुविधा मुहैया कराई जाएगी.

भाजपा के घोषणापत्र में युवाओं और महिलाओं का खास तौर से जिक्र है. घोषणा पत्र के अनुसार, “अगले पांच साल में तीस लाख युवाओं को रोजगार दिया जाए.”

पार्टी ने किसानों के कर्जों का ब्याज चुकाने का वादा किया. अन्य चुनावी मुद्दों में हर गांव में बिजली और पीने का स्वच्छ पानी मुहैया कराने की बात कही गई है. साथ ही सरकारी नौकरियों के लिए आवेदन की उम्र को बढ़ा कर वर्ष किया जाएगा.

गुजरात चुनाव के लिए भाजपा का घोषणा पत्र जारी किए जाने के मौके पर अहमदाबाद में राज्य सभा में विपक्ष के नेता अरुण जेटली भी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.